शुरू करें गुड़ का बिजनेस होगी लाखों में कमाई इस प्रकार करें शुरुआत/

शुरू करें गुड़ का बिजनेस होगी लाखों में कमाई इस प्रकार करें शुरुआत/

शुरू करें गुड़ का बिजनेस होगी लाखों में कमाई इस प्रकार करें शुरुआत/अगर आप गुड़ का बिजनेस शुरू करने का विचार कर रहे हैं तो यह आपके लिए एक सुनहरा मौका साबित हो सकता है समय के साथ हर चीज बदलती है जैसे कि कुछ समय पहले तक गुड़ का प्रयोग बहुत ही ज्यादा किया जाता था/

परंतु मार्केट में शक्कर के आ जाने के बाद गुड़ का प्रयोग बहुत ही कम मात्रा में होने लगा और लोगों ने गुड़ की जगह शक्कर का प्रयोग शुरु कर दिया लेकिन बदलते समय के साथ ज्यादा शक्कर के प्रयोग करने से लोगों के अंदर तरह-तरह की बीमारियां होने लगी है जिसमें शुगर नामक बीमारी प्रमुख है शुगर मूल रूप से उन्हीं लोगों को सबसे ज्यादा होती है जो शक्कर का प्रयोग सबसे ज्यादा करते हैं/

मीठा खाना किसे पसंद नहीं है कोई त्यौहार हो जन्मदिन हो पार्टी हो हर समय हम मिठाई की मांग करते हैं और मिठाई के अंदर जो प्रमुख होता है वह होती है शक्कर (चीनी) और आज के समय में सभी जानते हैं कि ज्यादा शक्कर के प्रयोग करने से शुगर बढ़ जाता है और मूल रूप से जिसको कभी शुगर हो जाता है तो उसे जीवन भर मिठाई से परहेज करना होता है वह मीठा नहीं खा सकता/

परंतु अगर आप गुड़ का प्रयोग करते हैं तो आपको शक्कर से होने वाली बहुत सारी बीमारियों से भी बचाव हो सकता है साथ ही अगर किसी को शुगर नामक बीमारी हो जाती है तो वह भी मिठाई का प्रयोग कर सकता है इस में शुगर की मात्रा बहुत ही कम पाई जाती है/

गुड़ का बिजनेस

गुड़ क्या है?-गुड़ jaggery का बिजनेस-

गुड़ शक्कर का प्रतिरूप है परंतु जब हम शक्कर का निर्माण करते हैं तब उसमें तरह-तरह के केमिकल्स आदि का प्रयोग किया जाता है जिसको प्रयोग करने के बाद आपको कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं/

परंतु गुड़ खाने के बाद आपको किसी भी तरह की किसी बीमारी होने की संभावना नहीं होती है इसमें शुगर बहुत ही कम मात्रा में पाया जाता है साथ ही अगर आप प्रतिदिन गुड़ का थोड़ा प्रयोग करते हैं तो यह आपकी पाचन क्रिया को भी अच्छा बनाता है और आप शुगर जैसी बीमारी से भी बच सकते हैं/

गुड़ खाने में मीठा और स्वादिष्ट होता है परंतु इसका कलर लाल और कभी-कभी हल्की काले कलर का हो जाता है यह आपको बहुत ही आसानी से ग्रॉसरी शॉप में मिल जाता है जिसको आप आम भाषा में राशन की दुकान या परचून की दुकान कह सकते हैं यहां पर यह गुण आपको बहुत ही आसानी से प्राप्त हो जाता है/

गुड़ कैसे बनता है?-गुड़ jaggery का बिजनेस-

गुड़ का निर्माण गन्ने से किया जाता है हमारे देश में गन्ने का उत्पादन बहुत ही बड़ी मात्रा में किया जाता है जैसा कि आप सभी जानते हैं कि इसी गन्ने से शक्कर (चीनी) का निर्माण भी किया जाता है परंतु गुड़ का निर्माण करने के लिए किसी भी प्रकार के केमिकल्स की आवश्यकता नहीं होती है इसको हमारे किसान भाई बहुत ही आसानी से अपने खेतों पर ही तैयार कर लेते हैं/

आज के समय में गुड़ तैयार करने के लिए छोटे-छोटे कोल्हू सेंटर खुल गए हैं जहां पर किसान भाई अपना गन्ना बेच देते हैं और वहां पर गुड़ का निर्माण किया जाता है/ जिनको आप छोटी फैक्ट्री भी कह सकते हैं जहां पर गुण का निर्माण होता है यहां से आप गुण बहुत ही आसानी से खरीद सकते हैं/

परंतु हमारे किसान भाई भी गुड को तैयार कर लेते हैं इसके लिए उनको सबसे पहले गन्ने को कोल्हू में डालकर रस निकालते हैं और जब यह रस वह इकट्ठा करते हैं फिर इसको एक बड़ी कढ़ाई में डालकर गर्म किया जाता है जब गन्ने के रस को पकाया जाता है तब कहीं जाकर इस गन्ने के रस से गुड़ का निर्माण होता है/

गन्ने के रस को पकाने पर और भी कई प्रोडक्ट तैयार होते हैं जिनको आप राशन की दुकान पर भी खरीद सकते हैं साथ ही गन्ने से तैयार होने वाले नेचुरल तरीके से तैयार किया गया गॉड स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित होता है इसको आप कभी भी प्रयोग कर सकते हैं यह आपको कभी नुकसान नहीं देता है/

गुड़ उत्पादन करने वाले राज्य?

भारत में गुड़ उत्पादन करने वाले राज्य वह राज्य हैं जहां पर भारत में सबसे ज्यादा गन्ने का उत्पादन होता है जिनमें सबसे ज्यादा गन्ना उत्पादन उत्तर प्रदेश में होता है साथ ही उत्तरांचल बिहार पंजाब और हरियाणा में भी गन्ने का मूल रूप से उत्पादन किया जाता है/

इसके अलावा हमारे देश में गन्ना उत्पादन मध्य प्रदेश पश्चिम बंगाल राजस्थान आसाम में भी किया जाता है और महाराष्ट्र आंध्र प्रदेश तमिलनाडु गुजरात आदि राज्य में गन्ना उत्पादन के लिए जाने जाते हैं/

जहां पर गन्ने का उत्पादन किया जाता है वहां पर गुड़ का उत्पादन भी किया जाता है अतः आप इन राज्यों में गुड खरीदने के लिए संपर्क कर सकते हैं भारत में सबसे ज्यादा गन्ना उत्तर प्रदेश में उगाया जाता है इस कारण अगर आप उत्तर प्रदेश से गुड खरीदने के लिए संपर्क करेंगे तो आपको सबसे ज्यादा फायदा देखने को मिलेगा यहां पर आपको कम से कम कीमत में गुड प्राप्त हो जाएगा/

गुड़ का बिजनेस कैसे शुरू करें? – गुड़ jaggery का बिजनेस-

अगर आप शक्कर का दूसरा विकल्प गुड़ का बिजनेस शुरू करने का विचार कर रहे हैं तो आप इस बिजनेस की शुरुआत के लिए इस प्रकार तैयारी करेंगे तो आपको सबसे ज्यादा फायदा देखने को मिलेगा साथ ही आप यह भी जान सकेंगे कि आप इस बिजनेस को कैसे कर सकते हैं जो कि इस प्रकार से है-

1. अपनी मार्केट को समझें?

गुड़ का बिजनेस शुरू करने से पहले आपको सबसे पहले अपनी मार्केट को समझना होगा आपको यह जानकारी निकालनी होगी कि आपके मार्केट में किस प्रकार के गुड़ की सबसे ज्यादा मांग आ रही है और आपके मार्केट में जो भी गुण आ रहा है वह कहां से आ रहा है कौन सी मार्केट है जहां से आपकी मार्केट में गुड़ आता है /

जब भी आप गुड का बिजनेस शुरू करें अपने नजदीकी मार्केट से गुड़ की कीमत की भी जानकारी ले ले ताकि आप यह भी जानकारी रखें कि आपके मार्केट में गुड किस कीमत पर मिल रहा है ताकि जब आप अपना गुण खरीद कर मार्केट में लाए तो आपको यह जानकारी हो कि आपको कितनी प्रॉफिट हो सकती है और आपको दूसरी मार्केट से किस कीमत तक गुड़ खरीदना चाहिए/

2. नजदीकी होलसेल मार्केट खोजें?

जब अभी आप गुड़ का होलसेल बिजनेस शुरू करें सबसे पहले अपनी पास की होलसेल मार्केट खोजें जहां से आपको गुड़ कम से कम कीमत पर मिल सकता है सबसे बड़ा प्रश्न जहां पर यह बनता है कि आप अपने नजदीक की होलसेल मार्केट कैसे खो जाएंगे जहां से आपको गुड कम से कम कीमत पर प्राप्त हो सकता है/

इसके लिए सबसे पहले आप अपनी मार्केट से जानकारी ले सकते हैं कि उनको गुड़ कहां से प्राप्त हो रहा है साथ ही आप ऑनलाइन माध्यम से भी जानकारी निकाल सकते हैं की होलसेल कीमत पर गुड कम से कम रेट में आपको कहां से प्राप्त हो सकता है साथ ही आप गुण उत्पादन करने वाले राज्य जहां पर गुड़ का सबसे ज्यादा उत्पादन होता है पर जाकर भी गुड़ की खरीद कर सकते हैं/

3- गोदान का इंतजाम करें?

जब भी आप गुड़ का बिजनेस शुरू करें सबसे पहले एक गोडाउन का भी इंतजाम करें जहां पर आप अपना स्टॉक रख सकते हैं यह बहुत ही आवश्यक है कि आपकी गोदावन ऐसी जगह पर होनी चाहिए जहां पर किसी भी प्रकार की नमी ना हो साथ ही बरसात में भी जहां पर नमी ना आने की संभावना हो/

आपकी गोदावन ऐसी जगह होनी चाहिए जहां पर गाड़ी आसानी से आती-जाती रहे जब भी आप बाहर से गुड़ का स्टॉक मनाते हैं तो उसको रखने के लिए उचित जगह साथ ही गाड़ी के आने जाने के लिए एक उचित रास्ता होना बहुत ही आवश्यक है/

4- कर्मचारियों की भर्ती करें?

अगर आप गुड़ का बिजनेस होलसेल में शुरू करना चाहते हैं तब आपको कुछ कर्मचारियों की भी आवश्यकता पड़ेगी जो मार्केट से आपको आर्डर लाकर देंगे साथ ही माल को उतारने और लादने के लिए भी आपको कर्मचारियों की आवश्यकता पड़ेगी/

जब भी आप किसी बिजनेस की शुरुआत करते हैं तो आपको कुछ ना कुछ कर्मचारी की आवश्यकता पड़ती है जो आपके बिजनेस के हिसाब से कम और ज्यादा हो सकते हैं अगर आप गुड़ किसी व्यापारी को भेजते हैं तब उसको गाड़ी में रखने के लिए और उतारने के लिए आपके पास दो से 5 कर्मचारी होने चाहिए तभी आप समय पर ऑर्डर को पूरा कर सकते हैं/

गुड बिजनेस में कितना इन्वेस्टमेंट करें?-गुड़ jaggery का बिजनेस-

अगर आप गुड़ का होलसेल बिजनेस शुरू कर रहे हैं तब आपको कम से कम 500000 और आवश्यकतानुसार 1000000 रुपए तक का इन्वेस्टमेंट की आवश्यकता पड़ सकती है यह निवेश आपके बिजनेस के ऊपर निर्भर करता है कि आप अपने बिजनेस को किस प्रकार से करते हैं/

आप चाहे तो गुड़ का रिटेल बिजनेस शुरू करने के लिए मात्र ₹10000 से लेकर ₹50000 तक का इन्वेस्टमेंट करके भी गुड़ का बिजनेस शुरू कर सकते हैं/ यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप होलसेल बिजनेस शुरू कर रहे हैं या फिर रिटेल बिजनेस शुरू कर रहे हैं दोनों बिजनेस अपनी जगह पर अच्छा प्रॉफिट दे सकते हैं जो कि इस प्रकार से है/

गुड बेचने का आसान सरल तरीका?-गुड़ jaggery का बिजनेस-

अगर आप गुड़ का बिजनेस शुरू करने का विचार कर रहे हैं तब आप इस बिजनेस को दो तरीके से बहुत ही आसान तरीके से सेल कर सकते हैं दोनों तरीके की जानकारी नीचे दी जा रही है सावधानी पूर्वक पूरी जानकारी ले ताकि आप इस बिजनेस को सही से कर सकें?

1. गुड़ का होलसेल बिजनेस कैसे करें?

जब आप गुड़ का होलसेल बिजनेस शुरू करते हैं तब आपको सिर्फ बड़े-बड़े व्यापारी के साथ कांटेक्ट करना होता है बड़ा व्यापारी आपसे बड़ी मात्रा में गुड़ की खरीदारी करता है एक व्यापारी को आप कम से कम 5 टन से लेकर 10 टन तक का गुड़ बहुत ही आसानी से दे सकते हैं/

अगर आप एक गाड़ी प्रतिदिन मंगाते हैं तो आपको 2 से लेकर 4 की तलाश करनी है जो आपसे गुड़ की खरीदारी कर सकें आपको सिर्फ अपने क्षेत्र के बड़े से बड़े व्यापारी से संपर्क करना है और उनको गुड़ कम से कम कीमत पर बेचना है/

आप होलसेल मार्केट से जिस कीमत पर गुड़ खरीद कर ला रहे हैं उसके अंदर जो भी खर्चा आ रहा है उस खर्चे को निकालने के बाद आप एक रुपए प्रति किलो का प्रॉफिट ले सकते हैं इस प्रकार से आप 1 टन माल पर ₹1000 और 5 टन पर ₹5000 तक की प्रॉपर्टी ले सकते हैं/

2-गुड़ का रिटेल बिजनेस शुरू करें?

गुड़ का डटेल बिजनेस शुरू करना बहुत ही अच्छा सौदा साबित हो सकता है इसके लिए आपको ज्यादा इन्वेस्टमेंट की भी आवश्यकता नहीं होती है आप कम से कम इन्वेस्टमेंट में इस बिजनेस की शुरुआत कर सकते हैं/

गुड़ का रिटेल बिजनेस शुरू करने के लिए आपको एक इस प्रकार की लोकेशन की तैयारी करनी होगी जहां पर बहुत सारे लोग आते जाते हो इस प्रकार की लोकेशन पर आप केवल और केवल गुड का बिजनेस शुरू कर सकते हैं/

आप चाहे तो मेन मार्केट बस स्टैंड रेलवे स्टेशन के पास साथ ही मेन हाईवे पर भी इस प्रकार की दुकान शुरू कर सकते हैं जहां पर आप गुड़ का रिटेल बिजनेस शुरू कर सकते हैं/

अगर आप गुड़ का रिटेल बिजनेस शुरू करते हैं तो इस प्रकार के बिजनेस में आप कम से कम ₹5 और ज्यादा से ज्यादा ₹8 प्रति किलो तक की प्रॉफिट ले सकते हैं अगर आप कम प्रॉफिट पर अच्छा माल सेल करेंगे तो आपको ज्यादा कस्टमर भी मिलेंगे और अच्छी क्वालिटी का गुण बेचने पर वह कस्टमर दोबारा भी आपसे माल खरीदेगा इस प्रकार से आप गुड बिजनेस की शुरुआत कर सकते हैं/

गुड बिजनेस शुरू करने से पहले सावधानी?

जब भी आप गुड़ का बिजनेस शुरू करें गुड़ की क्वालिटी और स्वाद की परख अच्छी तरीके से करना सीख लो क्योंकि गॉड मुख्य रूप से स्वाद और क्वालिटी पर ही निर्भर करता है जब आप गुण की जानकारी मार्केट से लेते हैं तब इसकी फर्क करना सीखनी आवश्यक है ताकि आपको बाद में किसी प्रकार की परेशानी ना हो/

आप को सबसे ज्यादा ध्यान रखने की आवश्यकता तब होती है जब आप गुड़ के कलर पर ज्यादा ध्यान रखते हैं जब भी आप बिजनेस शुरू करें गुड़ का कलर का चुनाव बहुत ही सोच समझ कर करें जितना अच्छा कलर आपके गुड़ का होगा आप की बिक्री भी उतनी ज्यादा होगी साथ ही कलर के साथ साथ स्वाद का भी आपको ध्यान रखना होगा तभी आप गुड़ के बिजनेस में सफल हो सकते हैं/

गुड बिजनेस में रिस्क कितना है?

दोस्तों गुड़ का बिजनेस आपको प्रॉफिट तो बहुत देता है परंतु इसमें रिस्क भी बहुत ज्यादा होता है इसलिए जब भी आप गुड़ का बिजनेस शुरू करें उससे पहले आपको यह भी जानकारी लेनी होगी कि गुड बिजनेस में क्या-क्या रिस्क होते हैं/

1. बारिश होने से गुण खराब हो सकता है इसलिए पानी से बचाव मुख्य रूप से करना होता है/

2. बारिश में गुड़ का कलर खराब हो जाता है यह हल्के काले कलर का हो जाता है इस कारण इसकी कीमत कम हो सकती है/

3. नमी वाली जगह से दूर रखना होता है नमी के कारण भी गौर खराब हो सकता है/

4. चीता और चींटी से गुड़ का बचाव करना होता है वरना दुकानदार आपसे गुण नहीं खरीदेगा/

5. गुड को ज्यादा समय तक स्टॉक करके नहीं रखा जा सकता है इसलिए जितना मार्केट में ऑर्डर निकले उतना ही आपको माल खरीदना होता है/